May 20, 2024

UDAIPUR NEWS CHANNEL

Udaipur News की ताज़ा खबरे हिन्दी में | ब्रेकिंग और लेटेस्ट न्यूज़

आक्रोशित लोगों ने आंजना पुतले को घसीटते हुए निकाली शवयात्रा !

1 min read

प्रतापगढ़ जिले के छोटीसादड़ी उपखंड क्षेत्र के महुडिया गांव में बुधवार को प्रशासन द्वारा की गई कार्रवाई में जणवा समाज के नोहरे को ध्वस्त कर दिया गया, जिसके बाद जणवा समाज के लोगों मेंरोष व्याप्त हो गया, क्षेत्र के सालेड़ा गांव में जणवा समाज द्वारा सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना पर इस कार्रवाई को करवाने और इसमें शामिल होने का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ नारेबाजी की गई और पुतला दहन किया गया, इससे पूर्व आंजना के पुतले को बाइक के पीछे बांधकर पूरे गांव में शव यात्रा निकाली गई, इस दौरान महिलायें भी पीछे नहीं रही और उन्होंने भी महिलाओं ने भी आंजना के पुतले पर खूब जूते चप्पल बरसाते और अपना आक्रोश व्यक्त किया, दरअसल प्रतापगढ़ जिले के छोटीसादड़ी उपखंड क्षेत्र की बसेड़ी कुंडाल ग्राम पंचायत में महुड़िया गांव है, जहां जणवा समाज के करीब 100 परिवार निवास करते हैं, करीब 15-20 वर्ष पूर्व समाज द्वारा लाखों रुपए की लागत से एक सार्वजनिक नोहरे का निर्माण करवाया गया, जिसे प्रशासन ने अवैध बताते हुए पुलिस की भारी मौजूदगी में ध्वस्त कर दिया, इससे पूर्व गांव के सैकड़ों महिला पुरुषों ने इसका कडा विरोध भी किया लेकिन प्रशासन ने किसी की सुनी, यहां हम आपको बतादें कि छोटीसादड़ी उपखंड, मंत्री उदयलाल आंजना का ग्रह क्षेत्र है, अब इस मामले को लेकर जणवा समाज के साथ ही भाजपा के पदाधिकारी भी मंत्री उदयलाल आंजना सहित कांग्रेस सरकार को कटघरे में खड़ा कर रहे हैं और इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर मंत्री आंजना को जमकर ट्रोल किया जा रहा है, घटना के बाद पूर्व यूडीएच मंत्री श्रीचंद कृपलानी, बड़ीसादड़ी विधायक ललित ओस्तवाल, किसान नेता शंभू लाल मेनारिया सहित भाजपा के कई पदाधिकारियों ने सोशल मीडिया के माध्यम से इस घटना की निंदा करते हुए कांग्रेस सरकार पर द्वेषतापूर्ण राजनीति करते हुए इस कार्रवाई को करने का आरोप लगाया है, भाजपा पदाधिकारियों के अनुसार महुड़िया में निवासरत सभी जणवा समाज के लोग भाजपा समर्थित है जिसके चलते कांग्रेस द्वारा द्वैषता पूर्वक इस घटना को अंजाम दिया गया, समाज के लोगों ने प्रशासनिक अधिकारियों पर भी राजनीतिक दबाव में काम करने का आरोप लगाया है, इस घटना के बाद क्षेत्र के बिलोदा, अरनेड़, मंगलवाड़, बड़़वल, बोहेड़ा सहित कई गांवों में जणवा समाज के लोगों द्वारा विरोध जताया गया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *