April 21, 2024

UDAIPUR NEWS CHANNEL

Udaipur News की ताज़ा खबरे हिन्दी में | ब्रेकिंग और लेटेस्ट न्यूज़

एमएसएमई को बढ़ावा देने के लिए वेदांता ने लांच किया ‘साथी‘ कार्यक्रम

2 min read

  • एमएसएमई इकोसिस्टम को बढ़ावा देने के लिए चैनल फाइनेंस, ई-कॉमर्स, तकनीकी अपस्किलिंग और मार्केट डेवलपमेंट में महत्वपूर्ण पेशकश
  • अपने संयंत्रों के पास डाउनस्ट्रीम और एंसीलरी मैन्यूफेक्चरींग यूनिट की स्थापना के लिए एमएसएमई के साथ करेगा भागीदारी

नई दिल्ली, 20 अप्रैल 2021। भारत की धातु, तेल एवं गैस की अग्रणी निर्माता कंपनी वेदांता लिमिटेड, ने सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) के लिए अपने अपने प्रमुख प्रस्ताव ‘वेदांता साथी’ कार्यक्रम की औपचारिक शुरुआत की। भारत सरकार के माननीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री, और सड़क परिवहन और राजमार्ग, मंत्री, श्री नितिन गडकरी, ने वेदांता रिसोर्सेज लिमिटेड के एक्जीक्यूटिव चैयरमेन श्री अनिल अग्रवाल, की उपस्थिति में कार्यक्रम का शुभारंभ किया।
एक महत्वपूर्ण एमएसएमई ग्राहक और आपूर्तिकर्ता आधार के साथ, कंपनी अपने विस्तार मूल्य-श्रृंखला, आपूर्ति-श्रृंखला और सामाजिक-विकासात्मक कार्यक्रमों के माध्यम से दो दशकों से एमएसएमई इकोसिस्टम को बढ़ावा दे रही है। साथी कार्यक्रम के तहत एमएसएमई के लिए वेदांता के महत्वपूर्ण प्रस्ताव इस होगें।
अग्रणी बैंकों, एनबीएफसी और फिनटेक फर्मों के साथ साझेदारी में आकर्षक दरों और शिघ्र संवितरण पर चैनल वित्तपोषण
– जल्द ही माइक्रो-लॉजिस्टिक्स भागीदारों के माध्यम से डोरस्टेप डिलीवरी के साथ, वेदांता के उच्च गुणवत्ता वाले मूल्यवर्धित उत्पादों को खरीदने के लिए आसान और पारदर्शी तरीके से ई-कॉमर्स समाधान शुरू किया जाएगा।
– कंपनी के अनुसंधान संस्थानों, उद्योग संघों, आंतरीक और बाहरी वैश्विक विशेषज्ञों के व्यापक समुदाय तक पहुंच के साथ तकनीकी अपक्षय के लिए अवसर।

कच्चे माल (गर्म धातु की आपूर्ति), कम कार्यशील पूंजी और कैपेक्स की भागीदारी के समय पर वितरण जैसे लाभों के साथ एमएसएमई को वेदांता के संयंत्रों के पास डाउनस्ट्रीम/ सहायक विनिर्माण इकाइयों की स्थापना के अवसर।
एक समर्पित वेब पोर्टल के माध्यम से वेदांता की गुणवत्ता, उत्पाद अनुप्रयोग, इंजीनियरिंग और नवाचार टीमों के साथ बातचीत करने हेतु एमएसएमई के लिए एकल खिड़की

वेदांता साथी कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए श्री नितिन गडकरी, माननीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री, एवं सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री, भारत सरकार ने कहा, कि “महामारी ने देशों और उद्योगों के साथ वैश्विक आपूर्ति और सेवाओं के अपने स्रोतो मंे विविधता के लिए एक महत्वपूर्ण पुनर्गठन शुरू कर दिया है। यह हमारे एमएसएमई को खुलने वाले नए बाजारों में उतरने और इन वैश्विक आपूर्ति श्रृंखलाओं में एकीकृत होने का एक बड़ा अवसर प्रदान करता है। भारत सरकार ने पहले ही एमएसएमई क्षेत्र को पुनर्जीवित करने में मदद के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। अब, हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि डिजिटल परिवर्तन हो जो उन्हें इस वर्तमान अवसर का लाभ उठाने में सक्षम बनाता है। साथ ही एमएसएमई के लिए क्षमता निर्माण पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है। इसमें उन्हें डिजाइन, विनिर्माण, उत्पाद की गुणवत्ता बनाए रखने और अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए सही इनपुट के साथ मदद करना शामिल है। वेदांता के साथी कार्यक्रम जैसे प्रयास जो इन बहुत उद्देश्यों से जुड़ा हुआ है, हमारे एमएसएमई के लिए गेमचेंजर साबित हो सकता है। ”

वेदांता रिसोर्सेज लिमिटेड के एक्जीक्यूटिव चैयरमेन अनिल अग्रवाल, ने कहा कि “भारत में, एमएसएमई और स्टार्ट-अप्स का सकल घरेलू उत्पाद में केवल 7 प्रतिशत योगदान है, जबकि वैश्विक औसत 40 प्रतिशत है। हमारे एमएसएमई क्षेत्र के लिए अपने व्यवसायों को नए युग की तकनीकों तक पहुंच, अपस्किल करने के अवसरों और कच्चे माल की गुणवत्ता के साथ अपार अवसर हैं। यह रोजगार के अवसरों को बढ़ावा देगा, हमारे प्रतिभाशाली युवाओं को लाभान्वित करेगा और गरीबी को कम करेगा। वेदांता हमारे एमएसएमई के साथ इस विकास यात्रा में तेजी लाने के लिए खुश है।
वर्तमान में, कंपनी के एमएसएमई के 150 से अधिक ग्राहकों ने अग्रणी बैंकों और एनबीएफसी द्वारा 1000 रूपयों की क्रेडिट सीमा का उपयोग करने के लिए चैनल वित्तपोषण का लाभ उठाया है। वेदांता एमएसएमई ग्राहकों के लिए इस सीमा को 5 गुना बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है, और अधिक बैंकों और एनबीएफसी को जोड़ेगा। एमएसएमई की सहायता करने के अलावा, यह बैंकों और उधार देने वाले भागीदारों को भारत में सबसे मजबूत ग्राहक नेटवर्क के साथ अपने आधार को मजबूत करने के लिए आकर्षक और कम जोखिम का अवसर भी प्रदान करेगा।
कोठारी मेट्सोल के एमडी श्री विशाल कोठारी, ने कहा, कि “वेदांता के साथ हम दो दशक से जुडे़ हुए हैं इस साझेदारी ने हमें कम समय में कई गुना विकास करने में सक्षम बनाया है। आज, हम 30़ देशों में वैश्विक पदचिह्न के साथ, भारत से जस्ता के सबसे बड़े निर्माता और निर्यातक हैं। हमें वेदांता के चैनल फंडिंग कार्यक्रम से लाभ हुआ है। यह जल्दी मिलने वाला और संपार्शि्वक मुक्त था। सभी एमएसएमई को अपने व्यवसाय के विकास को तेजी से ट्रैक करने के लिए समान रूप से लाभ उठाने पर विचार करना चाहिए। ”
कंपनी के आगामी ई-कॉमर्स अवसर पारदर्शी मूल्य निर्धारण और लाइव मूल्य निर्धारण विकल्प जैसे महत्वपूर्ण लाभ प्रदान करेंगे मात्रा पर बिना किसी बाधा के साथ एक विविध उत्पाद पोर्टफोलियो के लिए सीधी खरीद, साथ ही साथ आसान डिलीवरी ट्रैकिंग और माइक्रो-लॉजिस्टिक्स भी होगें। वेदांता नए उत्पादों, उत्पाद अनुप्रयोगों और नए बाजार के विकास के लिए एमएसएमई के साथ सहयोग के लिए उद्योग संघों, तकनीकी विशेषज्ञों और अनुसंधान संस्थानों के अपने समुदाय की पेशकश करने का इच्छुक है।

Vedanta Limited, a subsidiary of Vedanta Resources Limited, is one of the world’s leading Oil & Gas and Metals company with significant operations in Oil & Gas, Zinc, Lead, Silver, Copper, Iron Ore, Steel, and Aluminium & Power across India, South Africa, Namibia, and Australia. For two decades, Vedanta has been contributing significantly to nation building. Governance and sustainable development are at the core of Vedanta’s strategy, with a strong focus on health, safety, and environment. Giving back is in the DNA of Vedanta, which is focused on enhancing the lives of local communities. Under the aegis of Vedanta Cares, the flagship social impact program, Nand Ghars have been set up as model anganwadis focused on eradicating child malnutrition, providing education, healthcare, and empowering women with skill development. The company has been featured in Dow Jones Sustainability Index, and was conferred CII-ITC Sustainability Award, the FICCI CSR Award, Dun & Bradstreet Awards in Metals & Mining, and certified as a Great Place to Work. Vedanta Limited is listed on the Bombay Stock Exchange and the National Stock Exchange in India and has ADRs listed on the New York Stock Exchange.

For more information please log on to https://www.vedantalimited.com

For further information, please contact:

Mr. Abhinaba Das Vedanta Ltd. Email: Abhinaba.Das@vedanta.co.in  Mr. Anirvan Bhattacharjee / Lennon D’Souza Adfactors PR Call: +91 9874455547   / +91 9870113007  Email: adfactorsvedanta@adfactorspr.com                    

Disclaimer:

This press release contains “forward-looking statements” – that is, statements related to future, not past, events. In this context, forward-looking statements often address our expected future business and financial performance, and often contain words such as “expects,” “anticipates,” “intends,” “plans,” “believes,” “seeks,” “should” or “will.” Forward-looking statements by their nature address matters that are, to different degrees, uncertain. For us, uncertainties arise from the behaviour of financial and metals markets including the London Metal Exchange, fluctuations in interest and or exchange rates and metal prices; from future integration of acquired businesses; and from numerous other matters of national, regional and global scale, including those of a political, economic, business, competitive or regulatory nature. These uncertainties may cause our actual future results to be materially different than those expressed in our forward-looking statements. We do not undertake to update our forward-looking statements.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *