April 20, 2024

UDAIPUR NEWS CHANNEL

Udaipur News की ताज़ा खबरे हिन्दी में | ब्रेकिंग और लेटेस्ट न्यूज़

जिंक कौशल केंद्र से कुशल होकर, रोजगार से जुड़ रहे युवा

1 min read

हिंदुस्तान जिंक संचालन आस पास के क्षेत्र के युवा जिंक कौशल केंद्र कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षण प्राप्त कर, कुशल होकर रोजगार से जुड़ रहे है। हाल ही में जिं़क कौशल केंद्र से प्रशिक्षित 5 जिलों उदयपुर, राजसमंद, चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा और अजमेर के 106 युवाओं का खाद्य और पेय पदार्थ, सुरक्षा, खुदरा, आतिथ्य और सामान्य प्रशासन के क्षेत्र में प्रतिष्ठित संस्थानों में प्लेसमेंट हुआ है। जिंक कौशल केंद्र कार्यक्रम बेरोजगार युवाओं को कौशल विकास और स्थिर आजीविका के अवसर के साथ सक्षम बनाने पर केंद्रित है।

106 में से 15 जनरल ड्यूटी सहायक प्रशिक्षुओं को इंदौर के एसआरजे सीबीसीसी कैंसर देखभाल अस्पताल, 39 सुरक्षा प्रशिक्षुओं को राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे हैदराबाद में अनआमर््ड सुरक्षा गार्ड के रूप में, खाद्य और पेय पदार्थ क्षेत्र के 10 प्रशिक्षु युवाओं को रमाडा रिजॉर्ट और स्पा में बेवरेज सर्विसेज प्रशिक्षु के रूप में नियुक्त किया गया। उदयपुर और 15 ग्राहक संबंध प्रबंधन प्रशिक्षुओं को 5 डिजिटल कॉल सेंटर द्वारा नियुक्त किया गया और अन्य 6 को पैंटालून रिटेल आउटलेट में रोजगार का अवसर मिला है। इसके अतिरिक्त, मदरसन सुमी सिस्टम्स लिमिटेड द्वारा 21 सहायक इलेक्ट्रीशियन प्रशिक्षुओं के समूह को कार्य हेतु नियुक्त किया गया है।

इस ग्रुप प्लेसमेंट के अलावा, सितंबर माह में जिंक कौशल केंद्र के 13 मूक-बधिर छात्रों के पहले बैच ने हॉस्पिटैलिटी और रिटेल के क्षेत्र में 100 प्रतिशत प्लेसमेंट हासिल किया। कार्यक्रम से अब तक जावर, दरीबा, कायड, चंदेरिया, देबरी, पंतनगर और आगुचा से 3800 प्रशिक्षुओं को आत्मनिर्भर और स्वतंत्र बनने के अवसर प्रदान कर लाभान्वित किया है और उन्हें उद्योग प्रासंगिक कौशल विकसित करने में सहायता प्रदान की है। इसके अलावा, जिं़क कौशल केंद्र से प्रशिक्षित 3200 युवाओं को प्रतिष्ठित कंपनियों में सफलतापूर्वक नियुक्ति मिली है और अन्य युवा स्वरोजगार से जुडे़ है।

जिंक कौशल केंद्र की पहल के माध्यम से वेदांता समूह की कंपनी हिंदुस्तान जिंक, 18-35 वर्ष की आयु के युवाओं को रोजगार से जोडने हेतु प्रशिक्षित करता है, जिसमें स्कूल छोड़ने वाले, बेरोजगार युवा,  अपने कौशल को उन्नत करने वाले स्थानीय युवाओं शामिल हैं। उद्यम स्थापित करने में तकनीकी सहायता और गैर-वित्तीय सुविधा के साथ यह कार्यक्रम युवाओं को आत्मनिर्भर और स्व-उद्यमी बनने के लिए कौशल प्रदान कर रहा है और इनमें से कई युवाओं  के लिए रोजगार के अवसर प्रदान करने में सफलतापूर्वक कामयाब रहा है। हिंदुस्तान जिंक एस एंड पी ग्लोबल प्लैट्स मेटल अवार्ड 2022 में पुरस्कृत एकमात्र भारतीय कंपनी है जिसमें प्रतिष्ठित कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व अवार्ड प्राप्त किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *